Home Business एसबीआई के खाताधारको के लिए बड़ी खबर, जानने के लिए पढ़े।

एसबीआई के खाताधारको के लिए बड़ी खबर, जानने के लिए पढ़े।

23
0
SHARE

एसबीआई खाताधारको के लिए बड़ी खबर। बता दें कि जों लोग एसबीआई के खाताधारक है, और अपना न्यूनतम बैंलेंस मेंटेन नहीं कर पा रहे है। उनके लिए एसबाआई ने नया नियम निकाला है। बता दें कि इस बार एसबीआई ने मिनिमम बैलेंस मेंटेन न करने पर 75% तक पेनाल्टी घटाई दी है।

वहीं आकंडो के अनुसार इससे 25 Cr खाताधारकों को फायदा मिलेगा। साथ ही इस पर पुष्टि करते हुए कहा है कि एसबीआई ने पेनल्टी चार्ज सभी तरह के ब्रांच कस्टमर के लिए घटाया गया है।
इससे पहले नियम यह था कि अगर आपके एसबीआई खाते में ग्राहक मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं रख पाता है। तो इसके लिए ग्राहक को मिनिमम बैलेंस मेंटेन न रखने पर पैनेल्टी देनी होती थी। जिस पर संशोधन करते हुए देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने सेविंग्‍स अकाउंट में मंथली एवरेज बैलेंस (MAB) मेंटेन नहीं करने पर लगने वाली पेनल्टी में भारी कटौती कर दी है।
इस पर यह खबर मिल रही है कि एसबीआई ने इस पैनेल्टी चार्ज में 75 फीसदी तक की कमी कर दी है। ऐसे में अब किसी भी कस्टमर को 15 रुपए प्‍लस GST से ज्यादा पेनल्टी नहीं देनी पड़ेगी। अभी तक यह अधिकतम 50 रुपए प्‍लस GST थी। बैंक कस्टमर को घटी हुई पेनल्टी का फायदा एक अप्रैल से मिलेगा।
एसबीआई के इस फैसले से 25 करोड़ कस्‍टमर्स को फायदा होने वाला है। साथ ही बता दें कि 15 रुपए पेनल्‍टी अब मेट्रो और शहरी क्षेत्रों के SBI कस्‍टमर्स के लिए है। वहीं अर्धशहरी, व ग्रामीण इलाकों के कस्‍टमर्स के लिए पेनल्‍टी को 40 रुपए प्‍लस GST से घटाकर 12 और 10 रुपए प्‍लस GST कर दिया गया है।
इस बात पर यह जानकारी प्राप्त हो रही है कि एसबीआई अपने ग्राहको को रेगुलर से‍विंग्‍स बैंक अकाउंट को बेसिक सेविंग्‍स बैंक अकाउंट (BSBD) में शिफ्ट करने की भी सुविधा दे रहा है। BSBD अकाउंट में मंथली एवरेज बैलेंस रखने जैसा नियम लागू नहीं होता है।
कुछ आकड़ो के अनुसार पैनेल्टी की रकम को देखते हुए जनवरी में वित्‍त मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों से सामने आया था कि अप्रैल से नवंबर 2017 के बीच एसबीआई ने सेविंग्‍स अकाउंट में MAB बरकरार न रख पाने वाले कस्‍टमर्स से जो पेनल्‍टी वसूली, वह 1,771 करोड़ रुपए रही। इसे लेकर बैंक की काफी आलोचना हुई थी और तभी बैंक ने संकेत दे दिए थे कि वह मिनिमम बैलेंस अमाउंट और इसे बरकरार न रख पाने पर लगने वाली पेनल्‍टी को घटाने पर विचार कर रहा है।
इसके अलावा प्रधानमंत्री जन धन योजना, स्‍मॉल अकाउंट्स, पेंशनर्स, माइनर्स और सभी सोशल बेनिफीशियरीज अकाउंट्स जैसे सेविंग्‍स अकाउंट्स को भी MAB अनिवार्यता से छूट है। इसके अलावा 21 साल तक की उम्र वाले स्‍टूडेंट अकाउंट को भी छूट मिली हुई है।